मंगलवार, 22 नवंबर 2011

chitro se janiye apne bachche ko

आम  तौर पर बच्चे स्कूल में या घर पर कॉपी में चित्र बनाते हैं.यदि बच्चा अपनी कल्पना शक्ति से अपनी मर्जी से चित्र बनाता है तो उसके द्वारा बनाई गयी आकृति कही न कही उसके व्यक्तित्व को या उसकी  इच्छाओ को दर्शाती है आयिए जाने की केसे ------
१.फूल-कॉपी पर अक्सर फूल बनाने वाले बच्चेसंवेदंशील तथा ईमानदार होते हैं.कला विज्ञान एवं फैशन डिजाइनिंग में इनकी रूचि होती है
२.पैड पौधे -ये बच्चे लगनशील धर्यवान और परिश्रमी होते हैं
३.घर-घर का खाका खीचने वाले सुरक्षा की चाहतरखने वाले होते हैं   ये झगडे से बचते है बहसबाजी इन्हें   पसंद नहीं आती   है
४.दिल-दिल बनाने वाले बच्चे मनमौजी होते हैं लेकिन गुस्सेल होना भी इनका एक  अवगुण हो सकता है
५आखे  -ऐसे बच्चे मीन मेख निकलने वाले होते हैं .अपनी चीजो को इन्हें शेयर करना ज्यादा पसंद नहीं होता
६.तारे-ऐसे बच्चे स्वाभिमानी होते हैं और सुच यानि यथार्थ में जीने वाले होते है
७बादल-बदल नव बनाने वाले बच्चे दिवा स्वप्ना में खोने वाले होते हैं.
तो जब भी आप बच्चे के बनाये चित्र देखे तो उन्हें यूं ही न जाने दे क्योकि बच्चे का हर चित्र कुछ न कुछ जरूर कहता है........

1 टिप्पणी:

  1. बहुत ही सार्थक पोस्ट अक्सर इसको अनदेखा करते हैं आभार

    पूनम जी जैसा आपने मेरी सहायता माँगी थी वह इस प्रकार हैं ;
    डैशबोर्ड में जाकर सेटिंग में जाएँ फिर बेसिक सेटिंग में जाकर वर्ड वेरिफिक्सन को नो कर दीजिये और फिर सेव करलें बस यही करना है
    २३ नवम्बर २०११ ५:१२ पूर्वाह्न

    उत्तर देंहटाएं